ब्लॉग » केश » Hair Fall Treatment In Hindi – हेयर फॉल या झड़ते बालों को गिरने से रोकने के सरल उपाय

Hair Fall Treatment In Hindi – हेयर फॉल या झड़ते बालों को गिरने से रोकने के सरल उपाय

Hair Fall in Hindi: बालों का झड़ना आजकल बहुत ही आम समस्या बन चुका है। यह समस्या इतनी आम हो चुकी है, कि बड़ों तो क्या छोटे-छोटे बच्चों के भी बाल झड रहे हैं। यह किसी भी लिंग के लोगों को हो सकता है। कुछ लोग तो इतने परेशान हो जाते हैं कि उनके सारे बाल झाड़ जाते हैं और वे गंजेपन का शिकार हो जाते हैं। बालों का गिरना अनेक कारणों से हो सकता है, यहाँ इस आर्टिकल में हम बताएंगे की बाल झड़ना क्या होता है, यह समस्या किन कारणों से होती है, इसका इलाज (Hair fall treatment in Hindi, Hair Fall solution in Hindi) क्या है और किस तरह बालों का झड़ना रोका (How to Stop Hair Fall in Hindi) जा सकता है?

Hair Fall in Hindi – बालों का झड़ना हिंदी में

ऐसा कहा जाता है कि आपके बाल आपकी हेल्थ के बैरोमीटर होते हैं और यदि आपको आपके बाल आपके तकिये पर और नहाते समय टूटते हुए दिखाई दे रहें हैं तो किसी अन्य अलार्म की शायद आपको आवश्यकता नहीं है जो आपको ये बताये कि आप बाल झड़ने की समस्या से जूझ रहें हैं। आज यह बहुत ही आम समस्या बन चुकी है और हेयर फॉल या बाल झड़ने की समस्या महिला, पुरुष या किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है। दैनिक आधार पर लगभग 100 बाल खोना एक आम घटना होती है। ऐसा तब होता है जब आप अपने बालों को कंघी करते हैं या यहां तक ​​कि जब आप कुछ भी नहीं करते हैं। लेकिन उनके स्थान पर नए बाल उगते हैं और उनकी जगह को भर देते हैं। हमे इस स्थिति का इलाज करने के सरल और आसान तरीकों के बारे में भी सही से ज्ञान नहीं है। अक्सर कम ज्ञान के आभाव में हम महंगे शैम्पू और प्रोडक्ट्स में पैसे बर्बाद कर देते हैं। यहां हम ऐसे ही कुछ सरल और आसान उपायों (Hair fall treatment in Hindi) के बारे में जानेगें।

Causes of Hair Fall in Hindi – बाल झड़ने के कारण हिंदी में

बालों के टूटने के बहुत सारे कारण (Causes of Hair Fall in Hindi) होते हैं, जो इस प्रकार हैं-

  • आनुवंशिकता
  • किसी बीमारी के कारण जैसे टायफॉइड (Hair Fall After Typhoid), कैंसर
  • दवाइयों के रिएक्शन से
  • खराब डाइट (जिसमे प्रोटीन, आयरन और अन्य खनिज लवण न हो) लेने के कारण
  • सर्जरी या ट्रॉमेटिक इवेंट के कारण
  • गर्भावस्था (Symptoms of Pregnancy in Hindi), प्रसव, जन्म नियंत्रण गोलियों के उपयोग को बंद करने, और मेनोपॉज़ (Menopause in Hindi) से जुड़े हार्मोनल परिवर्तन अस्थायी रूप से बालों के झड़ने का कारण बन सकते हैं।
  • बालों के झड़ने का एक कारण कैंसर, हाई ब्लड प्रेशर, गठिया (Arthritis in Hindi), डिप्रेशन (Depression in Hindi) और हृदय की समस्याओं के इलाज (Hair fall treatment in Hindi) के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं भी हो सकते हैं।
  • रोग जो स्केरिंग का कारण बनते हैं, जैसे लाइफन प्लानस और कुछ प्रकार के लुपस, के परिणामस्वरूप स्कार्फिंग के कारण हमेशा के लिए बाल झड़ सकते हैं।
  • अलग अलग तरह के शैम्पू लगाने से और बहुत सारे केमिकल्स का इस्तेमाल भी आपके बालों के झड़ने का कारण हो सकता है।
  • एनीमिया (Anemia Meaning in Hindi) भी बालों के झड़ने का एक कारण हो सकता है (20 से 50 वर्ष की महिलाओं में 10 में से एक महिला इसकी शिकार होती है)।
  • बढ़ती उम्र भी बालों के झड़ने का एक कारण हो सकती है।

बालों के गिरने के कारणों (Causes of Hair Fall in Hindi) से तो आप भलीभाँति परिचित हो ही गए होंगे, अब जरा ये भी जान लीजिये कि किन उपायों और घरेलू उपायों (Hair fall treatment in hindi) को अपनाकर आप इस समस्या से बाहर निकल सकते हैं और बालों का झड़ना रोक (How to Stop Hair Fall in Hindi) सकते हैं। आइये जानते हैं क्या हैं वो उपाय (Hair fall solution in hindi)?

Hair Fall Treatment in Hindi Or How to stop hairfall in hindi – बालों को झड़ने से रोकने के उपाय

बालों के झड़ने (Hair Fall in Hindi) की समस्या से निपटने के लिए इन सरल घरेलू उपायों (Hair Fall Treatment in Hindi) को आजमाएं –

आँवला: आँवला को इंडियन गूज़बेरी के नाम से भी जाना जाता है। जब इसे बालों में लगाया जाता है तो यह अदभुत चमत्कार करता है, विशेषकर जब आप बालों के झड़ने की समस्या (Hair fall treatment in Hindi) से जूझ रहें हों। इसके लिए सूखे आँवले को या आँवले के पाउडर को नारियल के तेल में मिलाकर तब तक गरम करें जब तक यह काला न पड़ जाये, फिर कमरे के तापमान पर इसे ठंडा करके अपने बालों की जड़ों में लगायें।

इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: Amla Juice (Indian Gooseberry Juice) Benefits In Hindi – आंवला के फायदे, और आंवला जूस के फायदे और नुकसान

कोकोनट मिल्क: (Hair fall treatment in Hindi) इसकी पौष्टिक टिश्यू गुण के कारण कोकोनट मिल्क को बालों के पुनः उगने और बालों को झड़ने से रोकने के लिए बहुत ही लाभकारी माना जाता है। इसके उपयोग के लिए ताजे नारियल को पीस क्र उससे मिल्क को अलग कर लीजिये और इसे अपने बालों पर और जड़ों में लगाइये 15-20 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दीजिये, और हलकी मालिश के बाद सिर को धो लीजिये। यह आपके बालों के लिए कोकोनट आयल की तरह काम करेगा और आपके बालों को मजबूती प्रदान करेगा।

निम्बू और दही का मिश्रण: (Hair fall treatment in Hindi) निम्बू और दही दोनों ही हमारे बालों के लिए प्राकृतिक कंडीशनर की तरह कार्य करते हैं और बालों से रुसी को दूर करते हैं। इसके प्रयोग के लिए दही में आधा निम्बू मिलकर पेस्ट बना लें और इसे अपने बालों पर और जड़ों में लगाएं। करीबन 30 मिनट के लिए इस मिश्रण को छोड़ दें जब तक आपके बाल कड़े नहीं हो जाते फिर आधे घंटे बाद शैम्पू से बालों को अच्छे से धो लें ।
इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: निम्बू के फायदे – Nimbu Ke Fayde – Lemon Benefits in Hindi

शहद-ओलिव आयल का मिश्रण: हमारे पुराने आर्टिकल में हम पहले ही बता चुके हैं कि किस प्रकार ओलिव आयल हमारे बालों के लिए लाभदायक होता है। यदि आप अपने बालों को झड़ने से रोकने के लिए कोई जादुई तेल ढूंढ रहें हैं तो परेशान न हों। यहां हम बताएंगे कि किस तरह आप ओलिव आयल में कुछ और प्राकृतिक सामग्री मिलाकर एक जादुई तेल बना सकते हैं, जो आपके बालों को झड़ने से रोक सकता है। (Hair fall treatment in Hindi) 2 चम्मच ओलिव आयल में 2 चम्मच शहद और थोड़ा दालचीनी पाउडर मिलाकर इसका मिश्रण तैयार कर लीजिये। इस मिश्रण को नियमित रूप से लगाने से यह आपके बालों को चिकना, घना और चमकदार बनाने के साथ-साथ बालों को झड़ने से भी रोकेगा।
इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: Olive Oil Meaning & Benefits – जैतून के तेल के अदभुत फायदे

एलोवेरा जेल: एलोवेरा और एलोवेरा जेल दोनों ही हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी होते हैं। हफ्ते में यदि आप 2 बार एलोवेरा जेल लगते हैं तो यह आपके बालों के लिए अत्यंत फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए, एलोवेरा की पत्तियों को काटकर उसका जेल बालों में लगाने से सिर की खुजली के साथ साथ बालों को दुबारा उगने में मदद भी करता है। इसके लिए एलोवेरा जेल को कुछ घंटों के लिए अपने बालों में लगा रहने दें और गुनगुने पानी से बाल धो लें।
इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: Aloe Vera Ke Fayde in Hindi – जानिए एलोवेरा के गुणकारी फायदे

प्याज का रस: प्याज में सल्फर उच्च मात्रा में होता है जो बालों के झड़ने को तो रोकता ही है साथ ही सिर में ब्लड सर्कुलेशन को भी बनाये रखता है और बालों को फिर से उगने में मदद करता है। इसके अलावा प्याज में एंटीबैक्टेरियल गुण भी होता है, जो उन रोगाणुओं को मारने का काम करता जिसके कारण स्कैल्प इन्फेक्शन होता है और बाल झड़ते हैं।

नीम की पत्तियां: (Hair fall treatment in Hindi) नीम के चिकित्सीय गुण इसको बालों को झड़ने से रोकने के लिए एक सम्पूर्ण जड़ी बूटी बनाते हैं। इसके लिए नीम की पत्तियों को उबाल कर पीस लीजिये, और इस पेस्ट को शैम्पू किये हुए बालों में लगायें। 30 मिनट बाद बालों को अच्छे से धो लें । इस प्रक्रिया को हफ्ते में 2 बार दोहरायें।

लेवेंडर आयल: लेवेंडर आयल में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीसेप्टिक और एंटी फंगल गुण होते हैं, जो रूसी और बालों का झड़ना (Hair fall treatment in Hindi) दोनों को एक साथ रोकते हैं।

एग व्हाइट मास्क: अंडे में प्रोटीन, बायोटिन और विटामिन B भरपूर मात्रा में होता है, जो बालों के गिरने को कम करने में मदद करता है। इसके लिए अंडे के सफेद भाग के साथ थोड़ी सी मात्रा में ओलिव आयल मिलकर मिश्रण बना लीजिये, इसे अपने बालों और जड़ों में लगाकर 15-20 मिनट के लिए छोड़ दीजिये और उसके बाद शेम्पू से बाल धो लीजिये। इस प्रक्रिया को हफ्ते में कम से कम 2 बार दोहराएं ।

इन सभी आसान उपायों (Hair fall treatment in Hindi) को अपनाकर आप आसानी से अपने बालों का गिरना (How to Stop Hair Fall in Hindi) रोक सकते हैं। परन्तु यदि आप बालों की समस्या से ज्यादा परेशान हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें इसके अलावा नियमित रूप से अच्छी डाइट लें जो हरी सब्जियों, और खनिज लवणों से भरपूर हो। इसके अलावा रोजाना व्यायाम करने की आदत भी बनाएं। यदि आप बालों की समस्या (Hair Fall in Hindi) से जूझ रहें हैं तो योग और व्यायाम आपकी सहायता कर सकते हैं।

इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: How A Healthy Diet Can Make Your Hair Strong and Healthy