Lockdown in India in Hindi

लॉकडाउन में स्वास्थ्य से जुडी समस्याओं के लिए टेली/वीडियो परामर्श लें

जैसा की आप सभी जानते हैं की कोरोना वायरस से बचने की लिए हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी ने, 24 मार्च की रात 8 बजे देश को सम्बोधित करते हुए, एक सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए भारत में सम्पूर्ण लॉकडाउन (Lockdown in India in Hindi) की घोषणा कर दी है। अन्य देशो की भाँति यह खतरनाक और जानलेवा वायरस भारत में भी अपने पैर पसारता जा रहा है। अभी तक भारत में कोरोना वायरस के कुल 695 मामले सामने आ चुके है और कुल 14 मौतें हो चुकी है। जैसा की हम सभी जानते हैं यह खतरनाक वायरस बहुत से विकसित देशों में तबाही मचा चुका है। यदि अभी तक के कुल मामलों को देखा जाये तो विश्व में कुल 478,331 मामले सामने आ चुके हैं और 21,524 मौतें कोरोना वायरस के कारण हो चुकी हैं। अतः हमे भी इससे अपने और अपने देश को बचने के लिए भरसक प्रयास करने चाहिए।

जैसा कि हम अपने पुराने लेख में बता चुके हैं कि यदि आप या आपका कोई सगा सम्बन्धी इस वायरस से पीड़ित हैं तो तुरन्त ही होम क्वारंटाइन यानि संगरोध का पालन करे और तुरन्त ही हेल्पलाइन नंबर पर सहायता के लिए कॉल करें। इसके अलावा आज हम आपको बताने जा रहें हैं की इन 21 दिनों के लॉकडाउन (21 Days Lockdown in India in Hindi) में अपनी दिनचर्या कैसे मैनेज करें और लॉकडाउन के दौरान क्या करें और क्या न करें?

How To Manage Your Daily Routine During Lockdown in India in Hindi

Lockdown in India in Hindi

पेनिक न हों

इस समय सबसे महत्वपूर्ण है की आप परिस्थिति का डट कर सामना करे और किसी भी हालात में अपने आपको या अपने किसी भी जानने वाले को पेनिक न होने दें। इस समय सबसे महत्वपूर्ण है कि आप अपने घर में रहें और यदि कोई काम न हो तो अपने घरों से न निकले। भारत सरकार ने आपकी समस्त जरूरतों का ध्यान रखते हुए आपके आसपास के मेडिकल स्टोर, जरूरत के सामान की दुकानें इत्यादि को खुले रखने का भी निर्णय लिया है अतः घबराने की आवश्यकता नहीं है। जितना आप अपने घरों में रहेंगे आपके संक्रमित होने की सम्भावना उतनी ही कम रहेगी।

खाने का सामान

यद्धपि आपके आस पास के जनरल स्टोर यानि की जरूरत के सामान की दुकाने खुली रहेंगी, फिर भी जितना हो सके कम से कम बाहर निकलने की कोशिश करें। जब तक बहुत आवश्यक न हो बाहर न ही निकले तो आपके लिए और आपके परिवार के लिए अच्छा होगा।

परन्तु इसका मतलब यह भी नहीं है कि आप बहुत सारा सामान थोक में लेकर अपने घरों में जमा करलें। सामान खरीदते समय यह याद रखें की आपके जैसे ही दूसरे लोगों को भी उस सामान की उतनी ही आवश्यकता हो सकती है। खाना बचने न दें और खाने की वस्तुओं को फेंके नहीं। यहाँ यह बात याद रखनी अत्यंत आवश्यक है की बहुत से लोग इस मुश्किल समय में अपना भरण पोषण करने में भी सक्षम नहीं हैं अतः जितना भोजन खाना हो उतना ही बनाएं।

यदि किसी भोजन सामग्री का उपयोग फिर से किया जा सकता है तो ऐसा अवश्य करें।

दवाइयाँ

जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि समस्त जरूरत की दुकानें खुली रहेंगी जिसमे मेडिकल स्टोर भी शामिल हैं। यदि आप बीमार होते हैं तो बिना डॉक्टर की सलाह के कोई भी दवाई न लें। किसी भी दवाई का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से टेली/वीडियो के द्वारा परामर्श अवश्य ले लें और बहुत ही आवश्यक हो तब ही हॉस्पिटल जायें। इसके अलावा यदि आपको लगता है कि आप कोरोना वायरस के कोई लक्षण विकसित कर रहे हैं तो तुरन्त भारत सरकार द्वारा दी गयी हेल्पलाइन नंबर 011-2397804 पर कॉल करें या निम्नलिखित नंबरों पर कॉल करें।

Coronavirus helpline number, Lockdown in India in HindiCoronavirus helpline number, Lockdown in India in Hindi

घर से काम (वर्क फ्रॉम होम)

Lockdown in India in Hindi

घर पर रहकर ही अपने समस्त कार्यालय और ऑफिस का काम करें। किसी से मिलने जुलने से बचे और सामाजिक दूरी का पालन करें। हम समझते हैं की घर से ऑफिस या कार्यालय का काम करना आपको थोड़ा आलसी बना सकता है या हो सकता है की आपको किसी प्रकार का कोई कमर दर्द इत्यादि होने लगे, इसके लिए नीचे दी हुई एक्सरसाइज और व्यायामों का पालन करें और अपने आपको इस लॉकडाउन (Lockdown in India in Hindi) की स्थिति में भी सेहतमंद बनाये रखें।

सोशल डिस्टन्सिंग

Lockdown in India in Hindi

अब तो आप सभी इस शब्द से भली भाँति परिचित हो ही चुके होंगे। सोशल डिस्टन्सिंग यानि की सामाजिक दूरी बनाये रखने कितना आवश्यक है यह आपको अवश्य ही समझ आ चुका होगा। जितना आप सामाजिक दूरी का पालन करेंगे उतना ही अपने आपको इस खतरनाक बीमारी से बचा कर रखेंगे। जैसा की आपक सभी को ज्ञात ही है कोरोना वायरस मुख्य रूप से छूने से ही फैलता है। यदि कोई संक्रमित व्यक्ति छींकता है और आप उन वायरस युक्त बूंदों के सम्पर्के में आते हैं और फिर उन्ही हाथों को अपने मुँह, नाक या आँखों पर लगते हैं तो आप भी इस वायरस का शिकार हो सकते हैं। अतः स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और सामाजिक दूरी का पालन करें।

एक्सरसाइज और व्यायाम

लॉकडाउन का पालन करना है तो सबसे महत्वपूर्ण है घर में रहना। ऐसे में हो सकता है कि घर में बैठे बैठे आपका वजन बढ़ने लगे या आपको किसी प्रकार के दर्द प्रारम्भ हो जाएँ। इसलिए जरूरी है घर पर रहकर ही कुछ एक्सरसाइज और योग करना। यहाँ हमने कुछ एक्सरसाइज और योगा दिये हैं जिन्हे आप अपने घर पर रहकर ही कर सकते हैं और आपको बाहर निकलने की भी आवश्यकता नहीं होगी:

Lockdown in India in Hindi

एक्सरसाइज

  • पुश अप्स
  • स्क्वाट्स
  • प्लैंक
  • रस्सी कूदना
  • साइकिलिंग
  • क्रंचेस
  • लेग लिफ्ट
  • फ्लोर एक्सरसाइज

योग

  • प्राणायाम
  • पश्चिमोत्तानासन
  • पूर्वोत्तानासन
  • पद्मासन
  • शिशुआसना
  • वज्रासन
  • गोमुखासन
  • वृक्षासन
  • गरुणासन इत्यादि

क्या करें क्या न करें?

  • आप बैंक या एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं, बैंक और एटीएम खुले रहेंगे।
  • आप झुण्ड बनाकर बाहर नहीं निकल सकते।
  • यदि किसी की मृत्यु हो जाती है तो २० व्यक्ति से ज्यादा एक साथ नहीं जा सकते।
  • आप अपने निजी वाहन द्वारा बाहर जा सकते हैं किन्तु सिर्फ और सिर्फ तब जब बहुत आवश्यक हो।
  • आप हवाई यात्रा नहीं कर सकते।
  • यदि दवाइयों की आवश्यकता हो तो आप मेडिकल स्टोर जा सकते हैं।
  • आप किसी भी प्रकार का पब्लिक वाहन जैसे बस या टेक्सी या रेल इत्यादि का प्रयोग नहीं कर सकते।
  • पेट्रोल पम्प, गैस पम्प इत्यादि खुले रहेंगे।

इसे भी पढ़ें: कोरोनावायरस से जुडी ये बातें, जानिए सच है या झूठ : Coronavirus Myths And Facts

कोरोना वायरस के बारे में अधिक सलाह और जानकारी के लिए, हमारे चिकित्सा विशेषज्ञ से बात करें। क्रेडीहेल्थ द्वारा सही विशेषज्ञ चिकित्सक और क्लिनिक चुनने में सहायता प्राप्त करें, विभिन्न अस्पतालों से उपचार लागत की तुलना और समय पर चिकित्सा पायें।

कॉल बेक का अनुरोध करें

 

Source: https://www.worldometers.info/coronavirus/

blank
[[[[“field6″,”contains”,”Other”]],[[“show_fields”,”field8″]],”and”]]
1
Step 1

Get FREE Medical Assistance

keyboard_arrow_leftPrevious

Nextkeyboard_arrow_right