ब्लॉग » स्वास्थ्य ब्लॉग » Pregnancy Test in Hindi – प्रेगनेंसी टेस्ट कब और कितने दिन बाद करायें?

Pregnancy Test in Hindi – प्रेगनेंसी टेस्ट कब और कितने दिन बाद करायें?

एक औरत के लिए माँ बनने का एहसास ही बहुत खास होता है, और आप माँ बनने वाली हैं या नहीं इसका पता प्रेगनेंसी टेस्ट (Pregnancy Test in Hindi) की सहायता से आसानी से लगाया जा सकता है। अगर आपको प्रेगनेंसी का कोई लक्षण दिखाई देता है तो प्रेगनेंसी टेस्ट की सहायता से आप इसकी पुष्टि कर सकती हैं की आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। प्रेगनेंसी टेस्ट बहुत ही आसान होता है और इसे आप अपने घर (Pregnancy Test at Home in Hindi) पर भी कर सकते हैं और इसके अलावा अपने डॉक्टर से भी सलाह लेकर प्रेगनेंसी टेस्ट करा सकती हैं।  प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन बाद करे (Pregnancy Test kitne Din Baad Kare in Hindi) इसका भी पता होना उतना ही जरूरी होता है जितना प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करे इसके बारे में पता होना चाहिए।

प्रेगनेंसी टेस्ट क्या होता है? Pregnancy Test in Hindi

प्रेगनेंसी टेस्ट यह बताता है कि कोई महिला प्रेग्नेंट है या नहीं। प्रेगनेंसी को निर्धारित करने वाले कारक आपके यूरीन और ब्लड में पाए जाते हैं, इन्ही की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट किया जाता है। प्रेगनेंसी की प्रक्रिया 9 महीने की होती है जिस दौरान एक महिला अपनी बॉडी में बहुत सारे बदलाव महसूस करती है, ये बदलाव तबसे शुरू हो जाते हैं जब शायद उसे यह भी पता नही होता कि वो प्रेग्नेंट है। इन शारीरिक और मानसिक बदलावों को समझकर आप अपने आपको एक हेल्दी प्रेगनेंसी के लिए तैयार कर सकती हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट (Pregnancy Test in Hindi) की सहायता से आप इसकी पुष्टि कर सकती हैं।

Pregnancy Test in Hindi

अब सवाल यह उठता है की प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन बाद करना चाहिए (Pregnancy Test kitne Din Baad kare in Hindi)? पीरियड्स मिस होने के एक दिन के बाद प्रेगनेंसी या गर्भावस्था टेस्ट करने से आप अच्छा और एकदम सटीक रिजल्ट पा सकते हैं, हालांकि ज्यादा अच्छे रिजल्ट्स के लिए आपको पीरियड्स के मिस होने के 1 सप्ताह तक का इंतज़ार करके प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए।

आमतौर पर प्रेगनेंसी टेस्ट 2 प्रकार के होते हैं-

  • यूरीन सैंपल की सहायता से
  • ब्लड सेम्पले की सहायता से

ये दोनों ही टेस्ट ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रॉपिन (एचसीजी) नामक हार्मोन की उपस्थिति का पता लगाते हैं। यह हार्मोन प्लेसेंटा द्वारा उत्पन्न होता है जो भ्रूण गर्भाशय के अस्तर से जुड़ा हुआ होने के तुरंत बाद गर्भावस्था के पहले कुछ दिनों में आपके शरीर में तेज़ी से बढ़ता है। इसी हार्मोन की वजह से आपके शरीर में गर्भावस्था या परेगनन्सी के लक्षण (Pregnancy Symptoms in Hindi) दिखाई देते हैं।

यूरीन सैंपल की सहायता से:

यूरीन टेस्ट 2 तरीके से किया जा सकता है या तो इसे आप घर पर भी कर सकते हैं या अपने डॉक्टर के पास जाकर प्रेगनेंसी के लिए आप यूरीन टेस्ट करवा सकती हैं। पहला तरीका है कि आप एक कप में अपना यूरीन इकट्ठा करके एक आईड्रॉप्पर की मदद से प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए इस्तेमाल होने वाले यन्त्र में यूरीन की कुछ बूंदे डाल कर चेक कर सकती हैं। दूसरा तरीका यह है की आप डायरेक्ट अपने यूरीन को प्रेगनेंसी यंत्र में इकट्ठा करके प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। अगर सही तरीके से किये जाये तो यूरीन प्रेगनेंसी टेस्ट और होम प्रेगनेंसी टेस्ट 97% तक सही साबित होते हैं

ब्लड सैंपल की सहायता से:

ब्लड टेस्ट की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट 2 तरह का होता है- 1. क्वांटिटेटिव ब्लड टेस्ट, ब्लड में एचसीजी (HCG) की सही मात्रा को बताता है, और 2. क्वालिटेटिव ब्लड टेस्ट साफ साफ शब्दों में यह बताता है की आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं।

इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: First Time Sex Can Cause Pregnancy

प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन बाद करें? Pregnancy test kitne din baad kare in Hindi

प्रेगनेंसी टेस्ट कब और कितने दिन बाद करना चाहिये ( Pregnancy test kitne din baad kare in Hindi) – इसका जबाव यह है कि आपके पीरियड्स मिस होने के बाद कभी भी कर सकती हैं या पीरियड्स मिस होने के एक दिन बाद भी आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं। पीरियड्स मिस होने के बाद जितना जल्दी से जल्दी हो सके आपको प्रेगनेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए।

हालांकि कुछ प्रेगनेंसी टेस्ट का उपयोग आपकी पीरियड्स के ठीक होने से 4 या 5 दिन पहले भी किया जा सकता है। और इसके अलावा प्रेगनेंसी टेस्ट किट पैकेजिंग पर लिखे अनुसार भी आप टेस्ट कर सकती हैं। अगर आपको अपने पीरियड्स की तारीख याद है तो उसके अनुसार भी आप पता लगा सकती हैं कि कब ( Pregnancy Test Kitne din Baad Kare in Hindi) आपके पीरियड्स मिस होंगे और उस समय आप प्रेगनेंसी टेस्ट (Pregnancy Test in Hindi) क्र सकती हैं। If you’re not sure, it’s a good idea to wait at least 3 weeks after you think you may have conceived before doing a test.

इसके बारे में भी विस्तार से पढ़ें: Symptoms of Pregnancy in Hindi और Is Your Body Ready For Pregnancy?

प्रेगनेंसी टेस्ट के परिणाम

एक पॉजिटिव प्रेगनेंसी टेस्ट (गर्भवती) (Pregnancy Test in Hindi) यह बताता है की आप प्रेग्नेंट है पर अगर परिणाम नेगेटिव हो तो कुछ दिनों तक प्रतीक्षा करें और पुनः प्रयास करें। आप अपनी संतुष्टि के लिए अपनी डॉक्टर से भी सलाह लेकर उससे प्रेगनेंसी टेस्ट करा सकती हैं।

प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए अपने पास के गायनोकोलॉजिस्ट (Gynaecologist in Bangalore) से अपॉइंटमेंट बुक करें