close

थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी

  • ▪ प्रोसीजर का तरीका:  ऑपरेशन द्वारा
  • ▪ जाँच का उद्देश्य:  थायरॉयड विकारों का इलाज करने के लिए
  • ▪ सामान्य नाम:  थायराइड सर्जरी
  • ▪ दर्द की तीव्रता:  

थायरॉयडेक्टॉमी, थायरॉयड ग्रंथि के सभी या कुछ भाग को हटाने के लिए की जाने वाली एक सर्जरी होती है। थायराइड गर्दन में एक तितली के आकार की ग्रंथि होती है। यह ग्रंथि हार्मोन का उत्पादन करने के लिए जिम्मेदार होती है। थायराइड बीमारी तब होती है जब थायराइड या तो थायराइड हार्मोन का बहुत कम या बहुत ज्यादा उत्पादन करता है। ठीक से काम करने वाला थायराइड शरीर के मेटाबोलिज्म को सामान्य रूप से कार्य करने के लिए आवश्यक हार्मोन की सही मात्रा को बनाए रखता है। 

थायराइड बीमारी के प्रकार

  • हाइपरथायरायडिज्म: यह एक चिकित्सा स्थिति है जो तब होती है जब रोगी को एक अतिसक्रिय थायरॉयड होता है जिससे थायरॉयड ग्रंथि थायरोक्सिन का बहुत अधिक उत्पादन करती है। जब थायरॉयड बहुत अधिक हार्मोन का उत्पादन करता है, तो इसका परिणाम शरीर में ऊर्जा की तुलना में तेजी से होना चाहिए।
  • हाइपोथायरायडिज्म: यह एक आम विकार है जिसमें थायरॉयड ग्रंथि पर्याप्त थायराइड हार्मोन का उत्पादन नहीं करती है। इसे अंडरएक्टिव थायराइड या कम थायराइड के रूप में भी जाना जाता है। इसका परिणाम शरीर में ऊर्जा की तुलना में धीमी गति से होना चाहिए।

दिल्ली में थायराइड बीमारी के इलाज और लागत के बारे में अंग्रेजी भाषा में यहाँ पढ़े - Thyroidectomy Cost

दिल्ली में थायराइड बीमारी के इलाज का खर्च

  • अनुमानित खर्च: Rs.80,000
  • प्रक्रिया की अवधि: 1-2 hours
  • अस्पताल में रहने की कुल अवधि : 0 - 1 day
  • एनेस्थीसिया टाइप: लोकल
अनुमानित खर्च जानने के लिए क्लिक करें

दिल्ली एनसीआर में थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी के लिए सबसे अच्छे डॉक्टर की सूची

MBBS, एमएस (ईएनटी), डीएनबी

निदेशक - ईएनटी, सिर और गर्दन के सर्जरी

26 वर्षों का अनुभव, 5 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 1080

Registration FREE + 10% Off on OPD

MBBS, , डी एन बी (ईएनटी)

एसोसिएट निदेशक - ईएनटी और प्रमुख गर्दन सर्जरी डिवीजन

21 वर्षों का अनुभव, 6 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 1080

Registration FREE + 10% Off on OPD

MBBS, एमएस (ईएनटी), फैलोशिप - सिर और गर्दन Oncosurgery

सीनियर सलाहकार - ईएनटी और शल्य चिकित्सा कैंसर विज्ञान

32 वर्षों का अनुभव, 2 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1500   ₹ 750

डॉ अनूप साभेरवाल

MBBS, एमएस - ईएनटी

सलाहकार - ईएनटी

18 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1000   ₹ 800

20% off on OPD Fee + Registration Free

डॉ अनुराग जैन

MBBS, एमएस - ईएनटी

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

25 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

600   ₹ 330

close overlay
Loading Data

credihealth

दिल्ली एनसीआर में थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी के लिए सबसे अच्छे अस्पतालों की सूची

मेदांता मेडीसिटी

मेदांता मेडीसिटी, गुडगाँव

NABH NABL JCI

Bed 1200 बिस्तर

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 500 to 2000

बी.एल.के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 700 to 1500

फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 3000

Dharamshila अस्पताल

Dharamshila अस्पताल, नई दिल्ली

NABH NABL UICC

Bed 300 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 800

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टिट्यूट
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 1000 to 2500

दिल्ली एनसीआर में थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी के लिए सबसे अच्छे अस्पतालों की सूची

मेदांता मेडीसिटी

मेदांता मेडीसिटी, गुडगाँव

NABH NABL JCI

Bed 1200 बिस्तर

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 500 to 2000

बी.एल.के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 700 to 1500

फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 3000

Dharamshila अस्पताल

Dharamshila अस्पताल, नई दिल्ली

NABH NABL UICC

Bed 300 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 800

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टिट्यूट
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 1000 to 2500

फोर्टिस अस्पताल
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 400 to 3000

बत्रा अस्पताल

बत्रा अस्पताल, साकेत

NABH NABL

Bed 500 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 2500

सरोज सुपर स्पेशलिटी अस्पताल

सरोज सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, रोहिणी

NABH NABL ISO 9001:2008

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 150 to 1000

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 350 to 1000

जेपी अस्पताल

NABH

Bed 525 बेड

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 1000

आर्टेमिस अस्पताल

NABH JCI

Bed 300 बेड

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 500 to 1800

आरजी अस्पताल

आरजी अस्पताल, गगन विहार

NABH ISO 9001:2000

Bed 35 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 700 to 1150

मेट्रो अस्पताल और कैंसर संस्थान

मेट्रो अस्पताल और कैंसर संस्थान, प्रीत विहार

NABH ISO

Bed 150 बेड

Speciality बहु विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 500 to 1000

आरजी अस्पताल

आरजी अस्पताल, कैलाश के पूर्व

NABH ISO 9001:2000

Bed 40 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 700 to 1000

आरजी अस्पताल

आरजी अस्पताल, पीतमपुरा

NABH ISO 9001:2000

Bed 50 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 600 to 600

आरजी अस्पताल

आरजी अस्पताल, राजौरी गार्डन

NABH ISO 9001:2000

Bed 35 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 700 to 850

सर्वोदय हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर

सर्वोदय हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, फरीदाबाद

NABH

Bed 500 बेड

Speciality सुपर विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 500 to 600

अपोलो स्पेक्ट्रा हॉस्पिटल
Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 800 to 1200

अपोलो हॉस्पिटल्स स्पेक्ट्रा

अपोलो हॉस्पिटल्स स्पेक्ट्रा, नेहरू नगर

Speciality सुपर विशेषता

Logo

Rupees blue शुल्क सीमा: रुपया 800 to 1000

दिल्ली एनसीआर में थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी के लिए सबसे अच्छे डॉक्टर की सूची

MBBS, एमएस (ईएनटी), डीएनबी

निदेशक - ईएनटी, सिर और गर्दन के सर्जरी

26 वर्षों का अनुभव, 5 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 1080

Registration FREE + 10% Off on OPD

MBBS, , डी एन बी (ईएनटी)

एसोसिएट निदेशक - ईएनटी और प्रमुख गर्दन सर्जरी डिवीजन

21 वर्षों का अनुभव, 6 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 1080

Registration FREE + 10% Off on OPD

MBBS, एमएस (ईएनटी), फैलोशिप - सिर और गर्दन Oncosurgery

सीनियर सलाहकार - ईएनटी और शल्य चिकित्सा कैंसर विज्ञान

32 वर्षों का अनुभव, 2 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1500   ₹ 750

डॉ अनूप साभेरवाल

MBBS, एमएस - ईएनटी

सलाहकार - ईएनटी

18 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1000   ₹ 800

20% off on OPD Fee + Registration Free

डॉ अनुराग जैन

MBBS, एमएस - ईएनटी

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

25 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

600   ₹ 330

Gaurav Mahajan

MBBS, डीएनबी - ईएनटी

सलाहकार - ईएनटी

13 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

600   ₹ 330

डॉ Tapaswini प्रधान

MBBS, एमएस - Otorhinolaryngology, डी एन बी - Otorhinolaryngology

वरिष्ठ सलाहकार - सर्जिकल ऑन्कोलॉजी

20 वर्षों का अनुभव, 2 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 960

20% off on OPD Fee + Registration Free

MBBS, एमएस - ईएनटी और Otorhinolaryngology

निदेशक - ईएनटी

26 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1500   ₹ 1200

20% off on OPD Fee + Registration Free

MBBS, एमएस - जनरल सर्जरी, मच - प्लास्टिक सर्जरी

सहायक निदेशक - सर्जिकल ऑन्कोलॉजी

25 वर्षों का अनुभव,

सिर और गर्दन के सर्जरी

1200   ₹ 960

20% off on OPD Fee + Registration Free

MBBS, डीएनबी - ईएनटी, कोक्लियर इम्प्लांटेशन में फैलोशिप

सलाहकार - ईएनटी और कर्णावत प्रत्यारोपण

19 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1500   ₹ 750

डॉ अमिताभ मलिक

MBBS, एमएस - ईएनटी, Fage

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

22 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

MBBS, एमएस - ईएनटी, डीएनबी

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी और प्रमुख गर्दन सर्जरी

26 वर्षों का अनुभव, 1 पुरस्कार

सिर और गर्दन के सर्जरी

1000   ₹ 900

Registration FREE + 10% Off on OPD

MBBS, एमडी - चिकित्सा, डीएम - तंत्रिका विज्ञान

सलाहकार - तंत्रिका विज्ञान

15 वर्षों का अनुभव,

न्यूरोलॉजी

900   ₹ 810

Registration FREE + 10% Off on OPD

डॉ शशिधर टीबी

MBBS, एमएस (ईएनटी), ECFMG

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

10 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

990   ₹ 891

10% discount on OPD Fee

MBBS, एमएस - ईएनटी, डी एन बी - ईएनटी

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

21 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1000   ₹ 800

20% off on OPD Fee + Registration Free

MBBS, एमएस - ईएनटी

सलाहकार - ई एन टी

15 वर्षों का अनुभव, 3 पुरस्कार

ईएनटी

800   ₹ 560

30% off on OPD Fee

MBBS, एमएस - ईएनटी

इ एन टी सर्जन

18 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

डॉ विजय वर्मा

MBBS, एमएस (ईएनटी)

सलाहकार - ईएनटी

10 वर्षों का अनुभव,

सिर और गर्दन के सर्जरी

880   ₹ 792

10% discount on OPD Fee

डॉ संजीव चावला

MBBS, एमएस - ईएनटी

वरिष्ठ सलाहकार - ईएनटी

24 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

श्री नरोत्तम पुरी

MBBS, एमएस

चिकित्सा सलाहकार और अवकाश प्राप्त सलाहकार - ईएनटी

44 वर्षों का अनुभव,

ईएनटी

1500   ₹ 1200

20% off on OPD Fee + Registration Free

close overlay
Loading Data

credihealth

क्रेडीहेल्थ आपको दिल्ली में थायराइड बीमारी के इलाज के खर्च के बारे में विशेष सहायता प्रदान करता है। हमारा उद्देश्य पूरे भारत में सर्वोत्तम चिकित्सा सुविधा और मार्गदर्शन प्रदान करना है। क्रेडीहेल्थ आपकी सही और सत्यापित डॉक्टरों को खोजने में मदद करता है, साथ ही दिल्ली में थायराइड बीमारी के इलाज के खर्च की अन्य हॉस्पिटलों से तुलना, और व्यक्तिगत सहायता इत्यादि भी प्रदान करता है। क्रेडीहेल्थ पर आप अच्छे हॉस्पिटल और डॉक्टर्स की सूची, पेशेंट्स रिव्यु, परामर्श शुल्क, थायराइड के लक्षण और अन्य जानकारी देख सकते है। ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बुक करे और परामर्श शुल्क पर 20% तक की छूट प्राप्त करे। 

close overlay
Loading Data

credihealth

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q: थायराइड के इलाज के लिए थायराइडेक्टोमी कौन करता है?

A:

थायरॉयड सर्जरी एक ईएनटी सर्जन द्वारा की जाती है जो सिर और गर्दन के विकारों में विशेषज्ञ होते है, जिसमें कान, नाक, गले, साइनस, वौइस् बॉक्स (स्वरयंत्र) और अन्य संरचनाएं शामिल हैं। गंभीरता और रोगी के मामले के आधार पर कभी-कभी एक जनरल सर्जन भी इस सर्जरी को कर सकता है।


Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

Q: थायराइड के इलाज के लिए थायराइडेक्टोमी कहां होती है?

A:

थायराइडेक्टोमी एक मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल में की जाती है, जो अच्छी तरह से चिकित्सा उपकरणों से सुसज्जित हो और उसमे सर्जरी करने के लिए आवश्यक सभी सर्जिकल उपकरण हों। अस्पताल में, ऑपरेशन किसी अन्य प्रमुख सर्जरी की तरह ऑपरेशन थियेटर में किया जाता है।


Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

Q: थायराइड बीमारी के लिए थायरॉयडेक्टॉमी कैसे की जाती है?

A:

थायरॉयडेक्टॉमी में, सर्जन या तो पूरे थायरॉयड ग्रंथि को हटा देता है या केवल इसके एक हिस्से को निकल देता है, जो थायरॉयडेक्टॉमी के प्रकार और चयन के पीछे के कारण पर निर्भर करता है। सर्जन रोगी की गर्दन में एक या एक से अधिक चीरे (कट) लगा सकता है, जो फिर से उस सर्जरी पर निर्भर करता है जिसे मरीज ने चुना है। चीरा लगाने के बाद, सर्जन सर्जरी के कारण के आधार पर या तो पूरी तरह से या आंशिक रूप से थायरॉयड ग्रंथि को हटा देता है। आप क्रेडीहेल्थ की सहायता से दिल्ली में थायरॉयडेक्टॉमी के खर्च और शहर के अस्पतालों में जहां इस सर्जरी से पहले और बाद में देखभाल प्रदान की जाती है, सभी अस्पतालों की सूची प्रदान करता है।


Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

Q: थायराइडेक्टोमी क्या होती है?

A:
थायरॉयडेक्टॉमी, थायरॉयड ग्रंथि के सभी या कुछ भाग को हटाने के लिए की जाने वाली एक सर्जरी होती है। थायराइड गर्दन में एक तितली के आकार की ग्रंथि होती है । यह ग्रंथि हार्मोन का उत्पादन करने के लिए जिम्मेदार होती है।

Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

Q: थायराइड के इलाज की पूर्व प्रक्रिया क्या है?

A:

सर्जरी की प्रक्रिया की शुरुआत से पहले, डॉक्टर रोगी की थायरॉयड क्रिया को नियंत्रित करने और रक्तस्राव के जोखिम को कम करने के लिए आयोडीन और पोटेशियम का सोल्यूशन जैसी दवा लिख ​​सकता है। एनेस्थीसिया की जटिलताओं से बचने के लिए सर्जरी से पहले रोगी को कुछ घंटों के लिए खाने या पीने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

आमतौर पर थायराइडेक्टोमी के मामले में, सर्जन रोगी को सामान्य एनेस्थीसिया देता है, जो पूरी प्रक्रिया के दौरान रोगी को पूरी तरह से बेहोश बनाये रखता है। एनेस्थेसियोलॉजिस्ट या एनेस्थेटिस्ट मरीज को मास्क के जरिए सांस लेने के लिए गैस के रूप में एनेस्थेटिक दवा दे सकता है या किसी लिक्विड दवा को नस में इंजेक्ट कर सकता है।एनेस्थीसिया के बाद, एक सांस की नली रोगी की श्वासनली में रखी जाएगी ताकि उसे पूरी प्रक्रिया में सांस लेने में मदद मिल सके।

फिर मेडिकल टीम मरीज के शरीर पर कई मॉनिटर लगाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उसकी हृदय गति, ब्लड प्रेशर और रक्त ऑक्सीजन पूरी सर्जरी के दौरान सही स्तर पर रहे। इन मॉनीटरों में रोगी की बाजू पर ब्लड प्रेशर कफ होता है और हार्ट मॉनिटर उसके सीने से जुड़ा होता है। 

यदि आप दिल्ली में थायराइडेक्टोमी के खर्च के विषय में चिंतित हैं तो आज ही क्रेडीहेल्थ की वेबसाइट पर आएं। हम क्रेडीहेल्थ में आपको दिल्ली के सबसे अच्छे अस्पतालों की एक विस्तृत सूची प्रदान करते हैं, जो उचित कीमतों पर इस सर्जरी की पेशकश करते हैं।


Answered by: Jyoti Kumari on 09/11/2019

Q: थायराइड के इलाज की पोस्ट-प्रक्रिया क्या है?

A:

एक बार सर्जरी खत्म हो जाने के बाद, मरीज को रिकवरी रूम में ले जाया जाता है, नर्सों की एक टीम सर्जरी और एनेस्थीसिया से मरीज की रिकवरी की निगरानी करती है। एक बार जब रोगी पूरी तरह होश में आ जाता है, तो उसे अस्पताल के कमरे में ले जाया जाएगा। कुछ रोगियों को गर्दन में चीरा के नीचे एक पाइप रखना पड़ता है, जिसे सर्जरी के बाद अगली सुबह हटा दिया जाता है। रोगी सर्जरी के बाद अपने सामान्य खाने और पीने की प्रक्रिया शुरू कर सकता है।

थायरॉयडेक्टॉमी के प्रकार के आधार पर रोगी को या तो सर्जरी के एक ही दिन या अस्पताल में रात भर रहने के बाद घर जाने की अनुमति दी जा सकती है, जो पूरी तरह से डॉक्टर के विवेक पर निर्भर करता है। रोगी को अपनी दिनचर्या पूरी तरह से शुरू करने से पहले कम से कम 10 दिन से दो सप्ताह तक इंतजार करना चाहिए। आमतौर पर सर्जरी के निशान को ठीक होने में एक साल लगता है, जिसके लिए डॉक्टर सनस्क्रीन की सलाह दे सकते हैं, जो निशान को कम होने से बचाने में मदद करेगा।


Answered by: Jyoti Kumari on 09/11/2019

Q: थायराइड के इलाज के जोखिम और जटिलताएं क्या हैं?

A:

यद्यपि थायराइडेक्टोमी को एक सुरक्षित प्रक्रिया के रूप में माना जाता है, किन्तु इसमें भी किसी अन्य सर्जरी की तरह जटिलताओं का जोखिम हो सकता है, जिनका उल्लेख नीचे किया गया है-

  • खून बहना 

  • खून में कम कैल्शियम होना 

  • आवर्तक लेरिंजल तंत्रिका

  • रक्तस्राव के कारण वायुमार्ग की रुकावट

  • इन्फेक्शन 

सर्जरी के दीर्घकालिक प्रभाव पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करते हैं कि थायरॉयड का कितना हिस्सा हटाया गया है।

दिल्ली में थायराइडेक्टोमी के खर्च के बारे में अधिक जानकारी के लिए, 8010-994-994 पर क्रेडीहेल्थ मेडिकल विशेषज्ञों से संपर्क करें।


Answered by: Jyoti Kumari on 09/11/2019

Q: थायराइड के इलाज के दौरान क्या होता है?

A:

रोगी के सामान्य एनेस्थीसिया के कारण बेहोश हो जाने के बाद, सर्जन द्वारा रोगी की गर्दन के केंद्र में एक चीरा लगाया जाता है। यह चीरा रोगी की त्वचा के क्रीज में रखा जाता है जिससे चीरे के ठीक होने के बाद इसका देखना मुश्किल होता है। सर्जरी के कारण या कारण के आधार पर, या तो पूरी या थायरॉयड ग्रंथि के एक हिस्से को हटा दिया जाता है।

यदि थायरॉयड कैंसर के कारण, थायरॉयडेक्टॉमी की जा रही है, तो सर्जन रोगी के थायरॉयड के आसपास लिम्फ नोड्स की भी जांच करेगए और उन्हें भी हटा सकता है। इस सर्जरी को आमतौर पर सभी तरह से पूरा करने में एक से दो घंटे का समय लगता है। सर्जरी की आवश्यकता के आधार पर समय अधिक हो सकता है या कम भी लग सकता है।

थायराइडेक्टोमी के कई दृष्टिकोण होते हैं, जो इस प्रकार हैं-

  • पारंपरिक थायराइडेक्टोमी: इस दृष्टिकोण में, रोगी के गर्दन के केंद्र में एक चीरा लगाया जाता है, ताकि सर्जन उसकी थायरॉयड ग्रंथि तक आराम से पहुँच सके। अधिकांश लोग जो थायरॉयडेक्टॉमी कराते हैं इस दृष्टिकोण से गुजरते हैं।
  • ट्रांसप्‍पोलर थायराइडेक्‍टॉमी: इस दृष्टिकोण में मरीज की गर्दन के बजाय उसके मुंह के अंदर एक चीरा लगाया जाता है।
  • एंडोस्कोपिक थायरॉयडेक्टॉमी: इस दृष्टिकोण में, गर्दन में कई छोटे चीरे लगाए जाते हैं, जिसके माध्यम से सर्जिकल उपकरण और एक छोटा वीडियो कैमरा डाला जाता है। यह कैमरा पूरी प्रक्रिया के दौरान सर्जन के लिए एक गाइड के रूप में कार्य करता है।

Answered by: Jyoti Kumari on 09/11/2019

Q: थायराइड बीमारी के लिए थायराइडेक्टोमी करने की आवश्यकता कब होती है?

A:

थायराइडेक्टोमी, थायरॉयड विकारों का इलाज करने के लिए की जाती है जैसे कि थायराइड कैंसर, बिना-कैंसर के थायरॉइड का बढ़ना, जिसे गोइटर के रूप में जाना जाता है और अतिसक्रिय थायराइड जिसे हाइपरथायरायडिज्म कहा जाता है।


Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

Q: थायराइड बीमारी के इलाज के संकेत क्या है?

A:

थायरॉयड से संबंधित समस्या होने पर आमतौर पर डॉक्टर थायराइडेक्टोमी का सुझाव देता है। नीचे लिखी समस्या होने पर भी आपका डॉक्टर थायराइडेक्टोमी कराने की सलाह दे सकता है-

  • थायराइड कैंसर: थायराइडेक्टोमी का सबसे आम कारण थायराइड कैंसर होता है। थायराइड कैंसर के मामले में, यदि सभी नहीं, तो थायरॉयड ग्रंथि के अधिकांश भाग को हटाना इसके इलाज के लिए अच्छा विकल्प होता है।

  • थायराइड की गैर-खतरनाक वृद्धि: इस स्थिति को गोइटर या गण्डमाला के रूप में जाना जाता है। यदि गोइटर आकर में बढ़ता जा रहा है तो, इसको पूरा हटाना या थायरॉयड ग्रंथि का केवल एक हिस्सा निकलना इसको सी करने का एक विकल्प होता है, क्योंकि यह धीरे धीरे असुविधाजनक होता जाता है और सांस लेने या निगलने में कठिनाई का कारण बनता है। कुछ मामलों में यह अतिगलग्रंथिता का कारण बनता है।

  • ओवरएक्टिव थायराइड: इसे हाइपरथायरायडिज्म के रूप में जाना जाता है। यह एक ऐसी स्थिति होती है जिसमें थायरॉयड ग्रंथि अत्यधिक हार्मोन का उत्पादन करती है। थायराइडेक्टोमी हाइपरथायरायडिज्म के मामले में इलाज का एक अच्छा विकल्प है, यदि रोगी को अन्य प्रक्रियाओं जैसे कि थायरॉयड विरोधी दवाओं के साथ समस्या है और रेडियोधर्मी आयोडीन थेरेपी से गुजरने के लिए तैयार नहीं है।

  • इंटरमीडिएट या संदिग्ध थायरॉयड नोड्यूल्स: जब डॉक्टर बायोप्सी परीक्षण करने के बाद भी कैंसर और गैर-कैंसर थायरॉइड नोड्यूल्स की पहचान करने में असमर्थ होते हैं, तो वे ऐसे रोगियों को थायराइडेक्टोमी कराने की सलाह देते हैं यदि नोड्यूल्स कैंसर होने का खतरा हो।


Answered by: Jyoti Kumari on 09/11/2019

Q: थायराइड के इलाज के लिए थायरॉयडेक्टॉमी क्यों की जाती है?

A:

थायराइडेक्टोमी तब की जाती है जब व्यक्ति की थायरॉयड ग्रंथि में समस्या होती है। ऐसी समस्याएं थायराइड कैंसर, हाइपरथायरायडिज्म, आदि के रूप में हो सकती हैं। यदि ये स्थितियां सांस लेने या निगलने में कठिनाई पैदा कर रही हैं या हाइपरथायरायडिज्म हुआ है या आप असहज महसूस कर रहे हैं और भविष्य में कैंसर हो सकता है, तो डॉक्टर द्वारा थायराइडेक्टोमी की सलाह दी जाती है। दिल्ली में थायराइडेक्टोमी के खर्च के विषय में सम्पूर्ण जानकारी के लिए आज ही क्रेडीहेल्थ की वेबसाइट पर आएं।


Answered by: Dr. Ashwanth Prathapani on 06/08/2019

घर
थायराइड का इलाज - थायराइडेक्टोमी का खर्च